Human Rights Violations – Victims of Asaram Bapu from Newspapers & TV clippings & Real court documents www.SlaveCult.com

Beatings & fear factor by asaram

Asaram orders his so called security men to beat any one who wants to leave ashram. Any one who speaks against asaram in ashram is beaten & is put in fear so he shouldn’t speak against asaram. Victim sadhak is beaten so much that sometimes some of them get unconcious and may die but his goondas keep beating the sadhak so he gives up and admits he will never leave asaram ashram.
Specific details about beatings and fear to inmates not to leave ashram details will be coming soon.

Any ashram brainwashed fanatic who wants to leave asaram ashram is beaten by his goondas. We can reveal specific details of beatings & dates of number of beatings but We would request media, Police, CBI, Human Rights organizations to please do inquire a bit and you will find evidences all over.
Ask any of the media person who reported the truth of asaram has been threatened, any reporter who writes victims stories is threatened. But Media and general public should be aware that Now the moment you receive a threatening call from so called supporter of asaram or ashram goondas please dial 100 call the Police & file FIR against asaram.
No need to fear as you will be saving thousands of files. he only has couple of gundaas, and around 25 of gundaas have already left him, they don’t want to be part of his crime network.
Some examples of beatings reported are by a criminal named SANJAY CHOWDHARY from Gaziabad, UP. He calls himself Sub Inspector but he is not his wife works for Delhi police. But remember any one misusing their government influence to help asaram is helping terrorist asaram to flourish. Report them to anti corruption bureau.

Another story of ADM V.P. singh used to be in gaziabad too will will be coming soon.

 

ok let me paste one more story came earlier but i just found.

आसाराम गुरुकुल के प्राचार्य पर प्रकरण

http://www.bhaskar.com/2008/09/01/0809012208_school_childrun.html

इंदौर.संतश्री आसारामजी गुरुकुल स्कूल, खंडवा रोड के प्राचार्य सुशांतसिंह के खिलाफ वहीं के छात्र की शिकायत पर भंवरकुआं थाने पर प्रकरण दर्ज किया गया है। छात्र के साथ परिजन ने भी अनेक संगीन आरोपों के साथ अभद्र व्यवहार व सामान जब्त कर टीसी नहीं देने की शिकायत की थी।

गौरव पिता जितेंद्रसिंह चौहान (12), खंडवा को इसी जुलाई में आसाराम बापू स्कूल और छात्रावास में भर्ती कराया था। कुछ दिन बाद ही उसने पिता को बताया सुबह चार बजे उठाकर ठंडे पानी से नहलाते हैं जबकि स्कूल सात बजे से लगता है।

कक्षा में पढ़ाई नहीं होती और नाश्ता के बजाय दोपहर 12 बजे भोजन ही देते हैं। वह भी कई बार समाप्त हो जाता है और बच्चे भूखे रह जाते हैं।

श्री चौहान ने स्कूल प्रबंधन से संपर्क किया तो उन्होंने सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। इसके बाद गौरव ने जमकर पिटाई की शिकायत की। परिजन ने पहले तो गौर नहीं किया, लेकिन जब स्कूल के समय में बच्चों को बाहर घूमते देखा तो उसे स्कूल से निकालने का मन बना लिया।

श्री चौहान व फूफा (स्थानीय अभिभावक) योगेंद्र पिता रामेश्वरसिंह निवासी कैलाश पार्क ने शुक्रवार को प्राचार्य से बात की तो उन्होंने कहा अप्रैल 09 तक की फीस जमा करने पर ही टीसी देंगे। हालांकि गौरव के दाखिले के समय ही अक्टूबर तक की फीस 15 हजार रुपए जमा की थी।

बची दो महीने की फीस भी वे छोड़ने को तैयार थे। आरोप है परिजन के ऐतराज पर स्कूल प्रबंधन ने गौरव का सामान जब्त कर अभद्र व्यवहार किया।

शिकायत दर्ज करने में भी हीले-हवाले योगेंद्र शनिवार को इसकी शिकायत करने भंवरकुआं थाने गए तो आर्ट एंड कॉमर्स कॉलेज के हंगामे का हवाला देकर टाल दिया। रात को फिर पहुंचे तो भी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। सुबह 11.30 बजे उन्होंने टीआई ब्रजेश कुशवाह से मुलाकात की तब प्राचार्य के विरुद्ध प्रकरण दर्ज हो सका।

28 बच्चे ही रह गए

गौरव ने बताया शुरुआत में वहां 112 बच्चे थे, जो इन्हीं प्रताड़नाओं के चलते कम होते-होते 28 रह गए। इस कारण स्कूल की पूरी व्यवस्था ठप हो गई है। नियमानुसार फीस जमा करने का कहा था

29 अगस्त को गौरव के पिता टीसी के लिए आवेदन लेकर आए थे, तो उन्हें स्कूल के नियमों के मुताबिक पूरी फीस जमा करने का कहा गया था। पर जब वे नहीं माने तो हमने मैनेजमेंट से बात कर सोमवार तक टीसी देने की बात कही। बाकि सारे आरोप सरासर गलत हैं। गौरव के फूफा ही स्कूल में अभद्रता करके गए थे।

-सुशांत सिंह, प्राचार्य, 

————————-

another story

http://in.jagran.yahoo.com/news/national/general/5_1_4773097/

आसाराम गुरुकुल में प्राचार्य पर संगीन आरोप

इंदौर। आध्यात्मिक गुरू आसाराम बापू और देशभर में फैले उनके आश्रमों की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही है। इंदौर के आसाराम आश्रम से जुड़े गुरुकुल के एक छात्र ने आज संस्थान के प्राचार्य पर मारपीट और अभद्र व्यवहार का आरोप लगाया।

पुलिस सूत्रों ने दर्ज शिकायत के हवाले से कहा कि मामला शहर के खंडवा रोड इलाके में स्थित आसाराम गुरुकुल से जुड़ा है। आरोप है कि गुरुकुल की पांचवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र गौरव सिंह को संस्थान के प्राचार्य शशांत सिंह ने पीटा और बाहर जाने से जबरन रोक दिया। छात्र गुरुकुल छात्रावास में ही रहता था। सूत्रों के मुताबिक मूलत: प्रदेश के खंडवा जिले से ताल्लुक रखने वाले गौरव के परिजनों का कहना है कि गुरुकुल में पढ़ाई का स्तर काफी नीचा है। लिहाजा वह अपने बच्चे का दाखिला किसी दूसरे स्कूल में कराना चाहते थे। जब वह इस संबंध में औपचारिकताएं पूरी करने के लिए गुरुकुल के प्राचार्य के पास गये तो उनके साथ भी बदसलूकी की गई।

सूत्रों ने बताया कि 14 साल के गौरव का कहना है कि वह फौरन गुरुकुल छोड़ना चाहता था। लेकिन उसे वहां जबरन रोका गया। विरोध जताने पर गुरुकुल में न केवल उसके साथ अभद्र व्यवहार किया गया, बल्कि उसकी पिटाई भी की गई।

पुलिस ने छात्र के परिजनों की शिकायत पर गुरुकुल के प्राचार्य के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 294, 323 और 341 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामले की बारीकी से जांच की जा रही है।

—————–

 

Now Imagine  that widowed mother, don’t you think she tried to get her son back from asaram in 14 years ?  she tried very hard, even ajay wanted to get out, but asaram is criminal who has still not let him go back to his home. Every time she went to ashram she was threatened, she came on TV then she was threatened. Asaram uses phoot dalo rajniti karo. asaram tells his inmate to threaten his own family members like he did in the case of father from agra.   Agra father was able to get only one son out his second son is still in surat ashram.   It’s a brainwashing cult which is finishing soon.  this is downfall of asaram ashrams, all his ashrams will be seized as day by day more crimes are opening up.

1 Comment »


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: